search
Live Love Laugh Logo

अपने मानसिक स्वास्थ्य के बारे में माता-पिता से बात करने के लिए मददगार 10 सुझाव

01

आप पर वास्तव में क्या बीत रही है उसके बारे में सोचो

सबसे पहले, याद रखो, इससे पहले कि किसी को यह बताएं कि आप पर क्या बीत रही है, आप को खुद ही यह समझना होगा। आप के अंदर इस भावना पैदा होने का क्या कारण है इसके बारे में सोचो। अपने आप से पूछो, "क्या गलत है (या सही) जो अभी मेरे साथ हो रहा है? मेरे इस तरह से महसूस करने का कारण क्या है? आप जिस तरह से महसूस करते हैं इस तरह से महसूस क्यों करते हैं इसके बिदुओं को जोड़ना शुरू करें। यदि आप इसे शब्दों में नहीं डाल सकते हैं, तो उनसे बात करें। आपको सिर्फ उन्हें इतना बताने की जरूरत है कि आप संघर्ष कर रहे हैं और आप जरूरत की मदद प्राप्त कर सकते हैं।

02

जो कहने जा रहे हैं उसकी योजना बनाएं

एक पटकथा लिखें यदि आप अभिभूत महसूस कर रहे हैं। यदि आप चिंतित हैं कि यह तनावपूर्ण होने वाला है और आप जिसको सम्मिलित करना चाहते हैं उसे भूल सकते हैं तो उसकी सूचि बनाएं। यहाँ तक कि आप उस पर थोड़ा अनुसंधान कर सकते हैं और पठन सामग्री साथ रख सकते हैं अगर आपको लगता है कि इससे आपको मदद मिलेगी। आपने जो अनुभव किया उसकी उभरती हुई लक्षणों की सूचि बनाएं जिससे आपके माता – पिता को समझने में आसानी हो जाएगी।

03

अलग अलग तरीकों से बातचीत रुख़ ले सकता है। इसके बारे में सोचो, और इसके लिए तैयार हो।

आप अपनी कल्पनाओं को इतना बिखेरनें ना दें कि आपको तनाव हो और पीछे हटना पड़े है। मानसिक रूप से तैयार होना महत्वपूर्ण है ताकि आप सतर्क रह सकें। इससे आपको इन संभव प्रतिक्रियाओं के लिए आपने आप को तैयार करने में मदद मिलेगी:

आपको अपराधिक राह पर ढकेल सकते हैं:

आपके माता-पिता इस तरीके का कुछ कह सकते हैं, "हमने तुमको सबसे अच्छा दिया है! तुम्हारे सर पर एक छत है/रोज़ अच्छा खाना मिल रहा है… तुमको अवसाद में नहीं रहना चाहिए!” यदि वे ऐसा करते हैं, तो प्रतिक्रिया दें, “हाँ, आप ठीक कह रहे हैं। मैं सहमत हूँ। मुझे इस तरह से महसूस नहीं करना चाहिए, और इस तरीके से मैंने जाना कि मुझे मदद की जरूरत है।"

वे आपकी भावनाओं को महत्वहीन बना सकते हैं:

वे कह सकते हैं "यह सिर्फ एक चरण/तुम्हारा बस बुरा दिन चल रहा है/तुम्हें सख्त होने की जरूरत है!" इस मामले में, आप कुछ इस तरीके कि प्रतिक्रिया कर सकते हैं, “मैं समझ रहा हूँ कि तुम क्या कह रहे हो, लेकिन यह उस से भी अधिक है। इसका मेरे ऊपर और मेरी जीने की क्षमता पर एक प्रभाव है। मैं नहीं जनता कि मैं कैसे अपने दम पर इसका प्रबंधन करूंगा और मुझे मदद की जरूरत है।"

वे उनके बारे में ऐसा कर सकते हैं:

वे कह सकते हैं, "हम हार गए, हम एक भयानक माता–पिता हैं …" अगर वे ऐसा करते हैं, तो आप कह सकते हैं, "ऐसा नहीं है कि आप पर्याप्त नहीं कर रहे हैं। मैं ऐसा कुछ भी नहीं कह रहा हूँ कि हमारे परिवार में या मेरे स्कूल या हमारे पर्यावरण में किसी प्रकार के परिवर्तन की जरूरत है, बल्कि मुझे मदद की जरूरत है। "

04

बात करने के सही समय के बारे में सोचें

ऐसे समय का चुनाव करें जो आपके और आपके माता-पिता के लिए सबसे अच्छा हो। व्यस्त, काम से भरे दिन के बजाय, आप शनिवार की दोपहर को उनसे बात कर सकते हैं जब घर पर कुछ भी नहीं चल रहा हो। इसके अलावा, इसको तब उठाएं जब आप प्रसन्नचित हों और संकट में न हों, जिससे आपके संदेश पर आपके मनोभाव का असर न पड़े।

05

इसी तरह के अनुभवों के बारे में अपने माता-पिता से पूछने की कोशिश करें

गतिरोध खत्म करने के लिए, अपने माता पिता से पूछने का प्रयास करें कि क्या वे कभी अवसाद या व्यग्रता से ग्रस्त रहे हैं या उनके जीवन में कभी ऐसा समय था जब उन्होंने अकेला, फंसा हुआ या तनावग्रस्त महसूस किया था। यह आप को देखने में मदद करता कि आप जो कहने जा रहे हैं आपके माता-पिता उससे अपने अनुभवों को जोड़ सकते हैं या नहीं। यहां तक कि अगर वे नहीं कहते है, यह कम से कम एक परिचय है जो कि चीजों को आसान बना सकता है।

06

एक पत्र, ईमेल, या पाठ्य संदेश काम कर सकता है

यदि आप के अपने माता पिता के साथ रिश्ते अच्छे नहीं है, या आप व्यग्र या तनावग्रस्त हैं, तो इसको लिखिना बातचीत शुरू करने का एक शानदार तरीका है। यह बातचीत में बाधा पहुँचाने वाली किसी भी बहस के बिना आपके विचार को स्पष्ट रूप से रखने में मदद करता है।

07

आपको यदि स्वयं बातचीत करना सहज नहीं लग रहा है तो मध्यस्थ के द्वारा कोशिश करें

आप यदि अपने माता पिता से सीधे बात करने में सहज महसूस नहीं कर रहे हैं; अगर आप खुद बातचीत नहीं करना चाहते, या सिर्फ उनके साथ बातचीत का अभ्यास करना चाहते हैं, तो आप एक स्कूल काउंसलर, शिक्षक, या करीबी रिश्तेदार या परिवार के दोस्त की मदद ले सकते हैं जो आप का संदेश आपके माता-पिता को दे।

08

अपने परिवारिक चिकित्सक या बाल चिकित्सक की मदद लें

कभी कभी माता-पिता अधिकार की स्थिति के व्यक्ति को अधिक गंभीरता से सुनते हैं। और एक चिकित्सा पेशेवर आपकी तरह की स्थितियों से निपटने के लिए भी योग्य है। यदि आप अपने डॉक्टर को अपने लक्षणों के बारे में बताएं तो – वे आपके माता-पिता से बात करने में सक्षम होंगे और आप कहां से मदद ले सकते हैं उस के लिए सिफारिश भी करेंगे।

09

जगह में एक कार्य योजना रखो

एक बार जब आप बात कर चुके हैं, आप अपने माता पिता के साथ सही जगह में कार्ययोजना शुरू कर सकते हैं। आप वहां पर अपने चिकित्सक का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा थोड़ा अनुसंधान करें, और अपने माता-पिता को उपयोगी साइटे और पढ़ने के लिए दें।

10

यदि आपको जरूरत है तो उपलब्ध अन्य संसाधनों को खोजें

आप यदि अपने माता-पिता या देखभाल करने वाले से तुरंत संपर्क नहीं कर सकते हैं, तो आप हेल्पलाइन तक पहुंच सकते हैं। आइकाल (iCALL) एक राष्ट्रव्यापी टेलीफोन और ईमेल के आधार पर परामर्श सेवा है, इसे टाटा सामाजिक विज्ञान संस्थान द्वारा शुरू किया गया और प्रशिक्षित मानसिक स्वास्थ्य पेशेवरों द्वारा चलाया जा रहा है। आइकाल भावनात्मक सहारा, सूचना प्रदान करना और जीवन काल में विभिन्न लिंग और यौन पहचान वाले लोगों में मनोवैज्ञानिक सामाजिक संकट में पड़े व्यक्तियों के लिए रेफरल सेवाएं प्रदान करता है।

यदि आप को मानसिक स्वास्थ्य के विषय में आपात मदद की आवश्यकता है, तो आप हमसे – सोमवार से शनिवार, सुबह 08.00. से 022-25521111 10.00 बजे तक काल करके संपर्क कर सकते हैं।
आप icall@tiss.edu पर ईमेल भी कर सकते हैं और हमें जवाब देने में खुशी होगी।

लेटेस्ट अप्डेट्स

मनोवैज्ञानिकों और मनोचिकित्सकों के बीच पांच अंतर

पाँच कारण मानसिक स्वास्थ में केरियर बनाने के

किशोरों के लिये जीवन कौशल का महत्व

और रोचक लेख खोजेंrytarw

साथ मिलकर हम भावनात्मक समस्याओं से परेशान बहुत से लोगों की मदद कर सकते हैं। हर एक छोटे से छोटा दान भी बदलाव ला सकता है।

दान करें और एक सकारात्मक बदलाव लाएं

हेल्पलाइन संबंधी अस्वीकरण

द लिव लव लाफ फाउन्डेशन (टीएलएलएलएफ) किसी व्यवसाय में शामिल नही है जिसमें सलाह प्रदान की जाती है, साथ ही वेबसाइट पर दिये गए नंबरों का परिचालन, नियंत्रण भी नही करता है। हेल्पलाइन नंबर केवल सन्दर्भ के प्रयोजन से है और टीएलएलएलएफ द्वारा न तो कोई सिफारिश की जाती है न ही कोई गारंटी दी जाती है जो कि इन हेल्पलाइन्स पर मिलने वाली चिकित्सकीय सलाह की गुणवत्ता से संबंधित हो। टीएलएलएलएफ इन हेल्पलाइन्स का प्रचार नही करते और न ही कोई प्रतिनिधि, वारंटी या गारंटी देते हैं और इस संबंध में कोई उत्तरदायित्व नही लेते हैं जो सेवाएं इनके माध्यम से प्रदान की जाती हैं। टीएलएलएलएफ द्वारा इन हेल्पलाइन नंबर पर किये जाने वाले कॉल के कारण होने वाले किसी भी नुकसान की जिम्मेदारी से स्वयं को अलग किया जाता है।