search
Live Love Laugh Logo

भारत में मानसिक स्वास्थ्य के लिए एक उच्च बिंदु

रिकॉर्ड तोड़ने वाले पर्वतारोही और एडवेंचरर डेविड लिआनो, जो माउंट एवरेस्ट पर पांच बार चढ़ चुके है, फिर से इस बार द लिव लव लाफ फाउंडेशन के लिए अपने समर्थन को दिखाने के लिए और मानसिक स्वास्थ्य के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए बिना ऑक्सीजन के पर्वतारोहण करेंगेI

36 वर्षीय पर्वतारोही एक से अधिक मायने में एक किम्वदंती है! उन्होंने एवरेस्ट शिखर पांच बार पहले ही प्राप्त किया है। वह पहले व्यक्ति थे जिन्होंने चढ़ाई के एक मौसम में माउंट एवरेस्ट शिखर पर दो बार चढ़ाई की। उन्होंने सात शिखर वार्ताओं के दोनों संस्करणों (अकोंकगुआ, माउंट मैक किनले, किलिमंजारो, कोस्स्युज़िसको, एवरेस्ट, एल्ब्रुस पर्वत, विनसन मासिफ और कर्स्तेंज़ पिरामिड) को पूरा किया। वह इस साल मई में अपना छठा एवरेस्ट शिखर रोहण बिना ऑक्सीजन के करने के प्रयास में है।

यह उनके सिर्फ पर्वतारोहण के कारनामें हैं। डेविड एक निपुण पैराग्लाइडर भी है और मैक्सिको, फ्रांस, स्विस और ऑस्ट्रिया के आल्प्स, नेपाल, और अमेरिका में कई क्रॉस कंट्री उड़ानें कर चुके हैं। पाल नौकायन के प्रति उत्साही वह एकल, बिना रुके और बिना सहायता के प्रशांत महासागर में 7,000 किलोमीटर से अधिक यात्रा कर चुके हैं। यही नहीं- डेविड 20 मैराथन और 200 दौड़ों में भाग ले चुके हैं । वाह!

बल्कि यह असामान्य बात है कि डेविड जैसा एक पर्वतारोही, भारत में मानसिक बीमारी के बारे में कुछ करना चाहते हैं। लेकिन उन्होंने खुलासा किया कि अपनी यात्रा के लिए पिछले वर्ष भारत पर अपने शोध के दौरान वह फाउंडेशन की वेबसाइट के संपर्क में आए थे। अपने मिशन और देश में मानसिक स्वास्थ्य से जुड़े कलंक के बारे में जानकारी देने से प्रभावित होकर, उन्होंने इस चढ़ाई को इसी मकसद को समर्पित करने का और शिखर यात्रा पर अपने साथ द लिव लव लाफ फाउंडेशन का बैनर ले जाने का फैसला किया।

david

“माउंट एवरेस्ट पर चढ़ाई एक बड़ी चुनौती है, लेकिन इसकी तुलना उस कठिन समय के साथ नहीं की जा सकती जिससे अवसाद और मानसिक बीमारी से ग्रस्त लोग गुजरते हैं। मुझे स्वयं पता है कि यह उनके लिए कितना मुश्किल हो सकता है। मेरे परिवार के कई सदस्य अवसाद, द्विध्रुवी विकार (बाईपोलर डिसऑर्डर) और व्यग्रता के शिकार हो गए हैं। अवसाद के सामने झुकने के परिणामों और उपचार के प्रभाव– मैंने दोनों देखे हैं। मेरे 24 वर्षीय चचेरे भाई ने आत्महत्या कर ली और, दूसरी तरफ मेरा अपना छोटा भाई अवसाद के साथ लगभग दो साल रहा। एक पल में, वह पूरी तरह से सामान्य होकर टीवी देख रहा होता था और फिर अचानक, उसे व्यग्रता का दौरा होता था, वह सामान्य रूप से सांस लेने में असमर्थ होता, उसके दिल की धड़कन बिना किसी कारण के तेज़ हो जाती और कुछ क्षणों में उसने सोचा कि वह मर जाएगा। लेकिन उन्होंने मदद मांगी और अपनी परिस्थितियों पर नियंत्रण हासिल करने में सफल रहा। आज, वह शादीशुदा है, उसकी एक जवान बेटी है और वह एक बहुत अच्छी नौकरी करता है।”

दीपिका ने दो टवीट्स के द्वारा डेविड के प्रयासों की सराहना की:

डेविड ने बदले में ट्वीटिंग द्वारा ही स्वीकार किया:

डेविड, 1 अप्रैल 2016 को अपनी यात्रा शुरू करने का प्रयास करेंगेI वह एक बैनर लेकर चलेंगे जिसका संदेश है ‘#YouAreNotAlone’ (आप अकेले नहीं हैं) और भारत और विश्व में बड़े पैमाने पर फैले अवसाद के मुद्दे पर जागरूकता बढ़ाएंगे और लोगों से आग्रह करेंगे कि इसका सामना करें और चिकित्सा सहायता प्राप्त करें। हम द लिव लव लाफ फाउंडेशन बारीकी से उनकी यात्रा पर नज़र रखेंगे आप भी यह कर सकते हैं। आप ट्विटर पर @TLLLFoundation पर या हमारे फेसबुक पेज TLLLFoundation पर हमारे साथ जुड़ सकते हैं। मानसिक स्वास्थ्य और अवसाद के मुद्दे का हैशटैग #YouAreNotAlone का उपयोग कर इस प्रयास का समर्थन करें। डेविड के शब्दों में, “हमें पता नहीं कैसे एक छोटा सा समर्थन किसी को उसके हालात से लड़ने का साहस दे सकता है।”

लेटेस्ट अप्डेट्स

इन्फोग्राफिक – शोक और क्षति का सामना करना – शोक के पाँच चरण

क्या वरिष्ठ नागरिकों में शारीरिक विकलांगता या चलने फिरने की समस्या अवसाद का कारण हो सकता है?

तनावमुक्त हो और डीटॉक्स करें, इन 5 आसनों के साथ

और रोचक लेख खोजेंrytarw

साथ मिलकर हम भावनात्मक समस्याओं से परेशान बहुत से लोगों की मदद कर सकते हैं। हर एक छोटे से छोटा दान भी बदलाव ला सकता है।

दान करें और एक सकारात्मक बदलाव लाएं

हेल्पलाइन संबंधी अस्वीकरण

द लिव लव लाफ फाउन्डेशन (टीएलएलएलएफ) किसी व्यवसाय में शामिल नही है जिसमें सलाह प्रदान की जाती है, साथ ही वेबसाइट पर दिये गए नंबरों का परिचालन, नियंत्रण भी नही करता है। हेल्पलाइन नंबर केवल सन्दर्भ के प्रयोजन से है और टीएलएलएलएफ द्वारा न तो कोई सिफारिश की जाती है न ही कोई गारंटी दी जाती है जो कि इन हेल्पलाइन्स पर मिलने वाली चिकित्सकीय सलाह की गुणवत्ता से संबंधित हो। टीएलएलएलएफ इन हेल्पलाइन्स का प्रचार नही करते और न ही कोई प्रतिनिधि, वारंटी या गारंटी देते हैं और इस संबंध में कोई उत्तरदायित्व नही लेते हैं जो सेवाएं इनके माध्यम से प्रदान की जाती हैं। टीएलएलएलएफ द्वारा इन हेल्पलाइन नंबर पर किये जाने वाले कॉल के कारण होने वाले किसी भी नुकसान की जिम्मेदारी से स्वयं को अलग किया जाता है।