search
Live Love Laugh

ब्लॉग

यहां मानसिक स्वास्थ्य विशेषज्ञों के कुछ ब्लॉग दिए गए हैं जो अपना अनुभव बताते हैं

प्रत्युषा बनर्जी: वह मानसिक रूप से मजबूत थी, यह मिथक है या सत्य?

अप्रैल 03, 2016 डॉ हरीश शेट्टी - मनोचिकित्सक

'वह मजबूत इरादों वाली थी, यह आत्महत्या नहीं हो सकती है', धीरूभाई अंबानी अस्पताल में उसकी मौत के बाद टीवी कैमरों में प्रत्युषा का एक दोस्त चिल्लाया। टीवी चैनलों ने जब उसकी कहानी को कवर किया, एक के बाद एक कई अभिनेताओं ने थोड़े-थोड़े अंतर पर यही वाक्य दोहराया। '

एक बच्चे ने अचानक स्कूल जाने से मना कर दिया क्यों?

30 दिसम्बर, 2015 डॉ. यशस्विनी कामराजू, चाइल्ड एंड एडोलसेंट साइकियाट्रिस्ट

अगर आपका बच्चा अचानक आकर यह कहता है कि 'मैं स्कूल नहीं जाना चाहता,' तो आप परेशान हो जाएंगे। क्या ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि बच्चा जिद्‌दी, बहुत दुलारा या अत्यधिक संरक्षित है? बाल रोग विशेषज्ञ अपनी प्रतिदिन की प्रैक्टिस में आमतौर से ऐसे मामले देखते हैं। मैं ऐसे ही एक मामले के बारे में बताना चाहूंगी, जिसमें बच्चे में स्कूल की आदत डालने से जुड़ा संघर्ष दिखाया गया है। [...]

ध्यान दें या अनदेखी करें

30 दिसम्बर, 2015 मिशेल मनासे-काउंसलर

परिभाषा के अनुसार, परीक्षाओं का तनाव 'दबाव की वह अनुभूति है अनेक बच्चे परीक्षाएं निकट आने के साथ जिसका सामना करते हैं। यह प्रायः परीक्षाओं से पहले दोहराने के दौरान और परीक्षाओं के तुरंत पहले दिखता है। तनाव को व्यक्ति की दबाव के प्रति प्रतिक्रिया माना जाता है।' [...]

कांशस पैरेंटिंग – बाल दिवस के अवसर पर कुछ सोचने लायक बातें

10 नवम्बर, 2015 निवेदिता चलिल- अर्थ संस्था की काउंसलर और संस्थापक जो मुम्बई में मानसिक स्वास्थ्य हेतु काउंसिलिंग और आर्ट्‌स वाली थेरेपी उपलब्ध कराती है

कुछ सप्ताह पहले, एक गर्भवती मित्र समीक्षा और उसके पति सचिन ने मुझसे मुलाकात की।

उसने कहा, 'हमें पैरेंटिंग के लिए सुझाव चाहिए।'

मैं हंसी और पूछा कि क्या वे वाकई गंभीर हैं [...]

लेटेस्ट अप्डेट्स

5 simple ways to help children deal with exam anxiety

7 तरीके जिसमें पुरुषों चिंता से प्रभावित हैं

7 ways depression is different in women and men

और रोचक लेख खोजेंrytarw

साथ मिलकर हम भावनात्मक समस्याओं से परेशान बहुत से लोगों की मदद कर सकते हैं। हर एक छोटे से छोटा दान भी बदलाव ला सकता है।

दान करें और एक सकारात्मक बदलाव लाएं

हेल्पलाइन संबंधी अस्वीकरण

द लिव लव लाफ फाउन्डेशन (टीएलएलएलएफ) किसी व्यवसाय में शामिल नही है जिसमें सलाह प्रदान की जाती है, साथ ही वेबसाइट पर दिये गए नंबरों का परिचालन, नियंत्रण भी नही करता है। हेल्पलाइन नंबर केवल सन्दर्भ के प्रयोजन से है और टीएलएलएलएफ द्वारा न तो कोई सिफारिश की जाती है न ही कोई गारंटी दी जाती है जो कि इन हेल्पलाइन्स पर मिलने वाली चिकित्सकीय सलाह की गुणवत्ता से संबंधित हो। टीएलएलएलएफ इन हेल्पलाइन्स का प्रचार नही करते और न ही कोई प्रतिनिधि, वारंटी या गारंटी देते हैं और इस संबंध में कोई उत्तरदायित्व नही लेते हैं जो सेवाएं इनके माध्यम से प्रदान की जाती हैं। टीएलएलएलएफ द्वारा इन हेल्पलाइन नंबर पर किये जाने वाले कॉल के कारण होने वाले किसी भी नुकसान की जिम्मेदारी से स्वयं को अलग किया जाता है।