search
Live Love Laugh Logo

मेरे वृद्ध माता-पिता चीजें भूल जाते हैं, क्या मुझे चिंता करनी चाहिए?

आप कैसे समझ सकते हैं कि स्मृति हानि का कारण बुढ़ापे या मनोभ्रंश (डिमेंशिया) है।

हमारे शरीर में उम्र बढ़ने के साथ कई बदलाव होते हैं, और हमारा मस्तिष्क इससे अलग नहीं है। इस तथ्य के चलते उम्र बढ़ने के साथ कुछ संज्ञानात्मक कठिनाई और विस्मृति अक्सर एक व्यक्ति में उत्पन्न हो जाती है। हालांकि, अल्जाइमर रोग और अन्य प्रकार के मनोभ्रंश से जुड़े स्मृति हानि और सामान्य आयु संबंधी स्मृति हानि के बीच अंतर है।

उम्र बढ़ने की प्रक्रिया के कारण स्मृति हानि एक व्यक्ति को एक पूर्ण और उत्पादक जीवन जीने से नहीं रोकता है। उदाहरण के लिए, एक बुजुर्ग व्यक्ति यह भूल सकता है कि उन्होंने अपने चश्मे या चाबियाँ कहाँ रखे हैं या किसी व्यक्ति का नाम भूल सकते हैं जिससे कुछ समय से नहीं मिले हैं। अक्सर याददाश्त में ऐसे बदलावों से दैनिक कामकाज में बाधा नहीं होती है जिसमें उनके काम करने की उनकी क्षमता, स्वतंत्र रूप से रहना या सामाजिक जीवन को बनाए रखना शामिल है।

स्मृति हानि कब डिमेंशिया का संकेत होता है

याददाश्त की सभी समस्याएँ उम्र बढ़ने से जुड़े नहीं होते हैं। आमतौर पर जब किसी व्यक्ति में मनोभ्रंश के लक्षण दिखते हैं, तब स्मृति के अलावा अन्य संज्ञानात्मक कार्य भी प्रभावित होते हैं – सीखना, अभिविन्यास, भाषा, समझ, नियोजन, समस्या सुलझाना और निर्णय लेना। अगर आपके अभिभावक में यह लक्षण दिख रहें हैं तो आपको पेशेवर सलाह लेनी पड़ सकती है:

नाम, चीज़ों और घटनाओं को जल्दी-जल्दी और ज्यादा बार भूलना।

हाल की घटनाओं और बातों को याद करने में कठिनाई होती है, जैसे, उसी दिन नाश्ते में उन्होंने क्या खाया यह भूल जाते हैं।

परिचित नाम या घटनाओं को पूरी तरह से याद करने में सक्षम नहीं हैं। उदाहरण के लिए, अपने पोते का नाम भूल जाना या किसी रिश्तेदार के घर जाने की बात याद रखना, लेकिन यह याद नहीं रख पाना कि वह किस रिश्तेदार के घर गए थे।

संकेत उपलब्ध कराए जाने के बाद भी नाम / स्थानों / घटनाओं को याद करने में असमर्थता।

बोलने या बधाई देते समय सामान्य शब्द भूल जाते हैं।

व्यवहार और मूड में अचानक परिवर्तन या बढ़ती व्यग्रता दर्शाना।

भूलने के कारण अपनी दैनिक गतिविधियों को करने में कठिनाई।

अनुपयुक्त स्थानों में सामान को रखना जैसे कि रसोई के दराज या फ्रिज में वॉलेट रखना।

एक परिचित जगह में चलने या ड्राइविंग करते समय रास्ते खोजने में कठिनाई होना या खो जाना।

स्थान को नेविगेट करने या निर्देशों का पालन करने में अक्षम होना।

निर्णय लेने में कठिनाई होना।

इन लक्षणों में से दो या अधिक का अस्तित्व स्मृतिभ्रंश के कारण स्मृति हानि का संकेत हो सकता है।

यदि लक्षणों में मनोभ्रंश दिखाई देता है तो क्या करें

डिमेंशिया क्रमागत आगे बढ़ने वाला और अपक्षयी मस्तिष्क रोग है जो विशेष रूप से स्मृति को प्रभावित करता है। यदि आप देखते हैं कि आपके वृद्ध माता-पिता में विस्मृति के संकेतों में मनोभ्रंश के लक्षण हैं, तो स्थिति का मूल्यांकन करने के लिए एक मनोचिकित्सक या न्यूरोलॉजिस्ट से परामर्श करें।

भूलने की समस्या मधुमेह, उच्च रक्तचाप, कोलेस्ट्रॉल, अवसाद, व्यग्रता, विटामिन बी की कमी और हाइपोथायरायडिज्म के कारण भी हो सकती है। अनुसंधान के सबूत बताते हैं कि इन स्थितियों में भी मनोभ्रंश का जोखिम काफी बढ़ सकता है।

गंभीर स्मृति हानि का जोखिम या तो रोका या कम किया जा सकता है:

डॉ. पी टी शिवकुमार, प्रोफेसर, जेरियाट्रिक साइक्याट्रिक यूनिट, निमहैंस से आदानों के आधार पर

 

इस आलेख की सर्वप्रथम रचना और प्रकाशना व्हाइट स्वान फाउंडेशन , द्वारा की गई थी, और इसे द लिव लव लॉफ फाउंडेशन के लिए संपादित किया गया है।

लेटेस्ट अप्डेट्स

7 तरीके जिसमें पुरुषों चिंता से प्रभावित हैं

मनोवैज्ञानिकों और मनोचिकित्सकों के बीच पांच अंतर

क्या प्रौढ़ नि:संतान दम्पतियों में अकेलेपन की भावना और अवसाद होने की सम्भावना अधिक होती है?

और रोचक लेख खोजेंrytarw

साथ मिलकर हम भावनात्मक समस्याओं से परेशान बहुत से लोगों की मदद कर सकते हैं। हर एक छोटे से छोटा दान भी बदलाव ला सकता है।

दान करें और एक सकारात्मक बदलाव लाएं

हेल्पलाइन संबंधी अस्वीकरण

द लिव लव लाफ फाउन्डेशन (टीएलएलएलएफ) किसी व्यवसाय में शामिल नही है जिसमें सलाह प्रदान की जाती है, साथ ही वेबसाइट पर दिये गए नंबरों का परिचालन, नियंत्रण भी नही करता है। हेल्पलाइन नंबर केवल सन्दर्भ के प्रयोजन से है और टीएलएलएलएफ द्वारा न तो कोई सिफारिश की जाती है न ही कोई गारंटी दी जाती है जो कि इन हेल्पलाइन्स पर मिलने वाली चिकित्सकीय सलाह की गुणवत्ता से संबंधित हो। टीएलएलएलएफ इन हेल्पलाइन्स का प्रचार नही करते और न ही कोई प्रतिनिधि, वारंटी या गारंटी देते हैं और इस संबंध में कोई उत्तरदायित्व नही लेते हैं जो सेवाएं इनके माध्यम से प्रदान की जाती हैं। टीएलएलएलएफ द्वारा इन हेल्पलाइन नंबर पर किये जाने वाले कॉल के कारण होने वाले किसी भी नुकसान की जिम्मेदारी से स्वयं को अलग किया जाता है।